जोबट पुलिस ने किया लूट का पर्दाफाश,उदयगढ़-बोरी रोड़ पर ग्राम सुडी में हुई थी वारदात

0 172
ad

जोबट पुलिस ने किया लूट का पर्दाफाश,उदयगढ़-बोरी रोड़ पर ग्राम सुडी में हुई थी वारदात

 

अज्ञात आरोपियो के द्वारा करीबन 3 लाख 20 हजार रुपये एवं मोबाईल हुई थी लूट

 

 

अलीराजपुर-जोबट दिनांक 19 मार्च 2023 को SDOP कार्यालय जोबट में आयोजित प्रेसवार्ता में घटना का खुलासा करते हुए अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक सखाराम सेंगर ने बताया की दिनांक 09.03.2023 को फरियादी हेमंत उर्फ दाड़म पिता बाबुसिंह परिहार जाति राजपुत उम्र 41 वर्ष निवासी उदयगढ बोरी से नगद राशि 3,16,700/- रूपये एक जींस कपड़े के बने छोट बैग में रखकर उस बैग को एक सफेद रंग के झोले में रख कर मोटर सायकल की हेंडल पर थैली टांग कर दिन करीबन 01.30 बजे बोरी से उदयगढ के लिये निकला और बोरी से आगे ग्राम बड़ी सुड़ी नदी के पास पहुंचा कि, एक मोटर सायकल पर दो व्यक्ति फरियादी के पीछे से आये और फरियादी की मोटर सायकल के आगे लाकर अपनी मोटर सायकल खड़ी करके पास आये और धक्का देकर मोटर सायकल से गिरा दिया और हेंडल पर टंगी थैली को छीनने लगे तो छिनाझपटी में सफेद रंग का झोला फट गया और उसके अंदर रखा जिन्स कपड़े का बैग निकाल लिया, जिसमें नकदी 3,16,700/- रूपये रखे थे को जबरदस्ती छिन लिया और मोटर सायकल चला रहा व्यक्ति के गाल पर दो थप्पड़ मारे व मोटर सायकल की चाबी निकाल लिया और पेंट की जेब में रखे काले रंग का पर्स जिसमें नकदी 4,000/- रूपये व आधारकार्ड व ड्रायविंग लायसेंस की फोटोकापी व कीपेड मोबाईल पुराना इस्तेमाली नोकिया कम्पनी का मारपीट कर छिन कर, दोनो अज्ञात बदमाश जबरदस्ती मारपीट कर लूटपाट कर मोटर सायकल से उदयगढ तरफ भाग गये। फिर घटना की बात फरियादी ने राहगीर से मोबाईल फोन लेकर अपने छोटे भाई रिंकु दरबार को बताई। फरियादी की सूचना पर थाना बोरी मे अपराध क्रमांक 31/023, धारा 394 भादवि का अज्ञात बदमाशों के विरूद्ध पंजीबद्ध कर प्रकरण अनुसंधान में लिया गया।

दिनदहाडे राहजनी की इतनी बडी घटना होनें से अलीराजपुर पुलिस के द्वारा घटना की गंभीरता को दृष्टिगत रखते हुये पुलिस अधीक्षक अलीराजपुर श्री मनोज कुमार सिंह के द्वारा तत्काल अन्य अधिकारियों के साथ घटनास्थल का निरीक्षण कर लूट की वारदात करने वाले अज्ञात आरोपियों की धरपकड हेतु अनुविभागीय अधिकारी पुलिस जोबट श्री नीरज नामदेव के नेतृत्‍व में थाना प्रभारी बोरी उनि अजय वास्‍कले के अधीनस्‍थ टीम गठित की गई। गठित टीम के द्वारा घटना दिनांक से अज्ञात आरोपियों की धरपकड हेतु गंभीरता से घटना के आसपास के इलाकों एवं संपत्ति संबंधी अपराधों में वांछित रहे आरोपियों पर सूक्ष्‍मता से नजर रखी जा रही थी तथा थाना बोरी के बदमाश प्रवृत्ति के ग्रामों में जाकर पतारसी की कार्यवाही की जा रही थी। तभी पुलिस टीम को मुखबिर द्वारा सूचना मिली कि उक्त लूट की वारदात में क़दवाल के लड़के शामिल है। मुखबिर की सूचना तथा तकनीकी साक्ष्यों के आधार पर बड़ी कदवाल के बदमाश को पकड़कर सख्‍ती से पूछताछ करते उसके द्वारा उक्‍त लूट की वारदात को अंजाम देना स्वीकार किया व पूछताछ मे बताया कि घटना में दो अन्य बदमाश भी थे ,आरोपी ने पूछताछ में बताया कि एक पार्टी पेमेंट लेने के लिये बोरी में आई हुई है यह उसे उसी व्यापारी ने बताया जिसके यहाँ फ़रियादी पेमेंट लेने गया था ।फिर तीनों बोरी आये जिसमें बोरी निवासी व्यापारी ने बताया कि वो आदमी जयंतीलाल सेठ के यहाँ पेमेंट लेने गया है वहाँ से पेमेंट लेकर मेरे पास आयेगा, यहाँ से जैसे निकलेगा मैं तुमको बता दुगा। हम चारो ने उसे लूटने की योजना बनाई। जैसे ही वह आदमी प्रजापति की दुकान से रूपये लेकर निकला एक आरोपी ने अपने साथी को फोन लगा कर बता दिया कि उदयगढ रोड़ पर बाइक सवार दो आरोपियों ने फ़रियादी को लूट लिया रूपये चारो ने आपस में बाट लिये। पुलिस टीम के द्वारा उक्‍त घटना में शामिल आरोपियों से कुल 1 लाख 91 हजार रूपये नगदी बरामद किये गये हैं। एक आरोपी फ़रार है,जिसकी गिरफतारी के लिये बोरी पुलिस टीम के द्वारा गंभीरत से प्रयास जारी है।उक्त प्रकरण में आरोपियों को पकड़ने में थाना प्रभारी बोरी उनि अजय वास्कले,उनि जगदीशचन्द्र पटेल,सउनि दिनेश हाड़ा,प्र.आर. पारस अनारे, आर. नीलेश वसुनिया,आर.राकेश,मुकेश,राजू,सैनिक दिलीप, थाना जोबट से आर. भवानी,आर. चेनसिंह,साइबर सेल से विशाल धारवार व प्रमोद भयड़िया का उल्लेखनीय योगदान रहा,पुलिस अधीक्षक ने सभी को पुरुष्कृत करने की घोषणा की है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.