जोबट देर रात्रि तक चलने वाले संगीतमय सुंदरकांड का भक्तों ने लिया लाभ

0 360
ad

जोबट देर रात्रि तक चलने वाले संगीतमय सुंदरकांड का भक्तों ने लिया लाभ

जोबट शिवभक्त भजन मंडल द्वारा रामचरितमानस सुंदरकांड के संगीतमय पाठ का आयोजन कि गया। सोमवार को वासुदेव वाणी के निज निवास पर रुपेश वाणी के पुत्र कायरव वाणी के प्रथम जन्मोत्सव पर आयोजित कार्यक्रम में शिव भजन भक्त सम्राट राजेंद्र गोदे ढोलक मास्टर मदन भाई अंजने शानदार बैंजो मास्टर संतोष भाई ऑक्टोपैड जीतू भाई आंजने सहीत भजन मंडली के अलावा बड़ी संख्या में श्रद्धालु शामिल हुए। शिव भक्त भजन मंडली द्वारा विगत कई वर्षों से भजन व सुंदरकांड के संगीतमय पाठ का आयोजन कहीं जगह पर किया जाता है। संगीतमय पाठ के बाद आरती व महाप्रसाद के वितरण कर रुपेश वाणी के पुत्र कायरव वाणी के प्रथम जन्मदिन पर केक काटकर कार्यक्रम का समापन किया इस मौके पर भजन गायक जयंतीलाल राठौर ने कहा कि कलियुग में भगवान का नाम लेने से ही मनुष्य भवसागर पार हो जाता है। उन्होंने कहा कि प्रभु नाम के स्मरण मात्र से ही समस्त पाप कट जाते हैं। सुंदरकांड बजरंगबली की अराधना है। इसके पाठ करने से बजरंगबली प्रसन्न होते हैं। विश्व के कल्याण की भावना से शिव भक्त भजन मंडली के सदस्य इस कार्यक्रम का आयोजन करते हैं। इस मौके पर जोबट नगर के हनुमान भक्तो ने संगीतमय सुंदरकांड को देर रात्रि तक चलने वाले संगीतमय सुंदरकांड का श्रवण किया सुंदरकांड में उपस्थित जोबट थाना प्रभारी विजय देवड़ा समाजसेवी गजेंद्र राठौड़ सुनिल श्रीवास्तव सौरभ सोनी अरविंद चौहान हेमंत नागर कैलाश सकुनिया सहीत सर्व समाज के लोग उपस्थित थे।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

जहरीली ताड़ी पीने से पांच लोगो की हालत बिगड़ी,चार महिला एक पुरुष शामिल-जामा मस्जिद चुनाव कमेटी ने किया हज यात्रियों का सम्मान।-लोकसभा चुनाव के मद्देनजर निष्पक्ष एवं निर्भीक मतदान कराने हेतु चांदपुर पुलिस ने निकाला डॉमिनेशन मार्च-हज यात्रियों के लिए टीका व प्रशिक्षण केम्प,जाने कब और कहा पर सिर्फ एक क्लिक में--अवैध शराब के विरुद्ध पुलिस की कार्यवाही करीब पांच लाख की शराब की जप्त।--पुलिस को मिली बड़ी सफलता, छापामार कार्यवाही के दौरान 7 लाख की अवैध शराब जप्त-कलेक्टर व पुलिस अधीक्षक ने ईद की तैयारी को लेकर ईदगाह का किया निरीक्षण, व्यवस्था व सुरक्षा को लेकर लिया जायजा।-बिजली विभाग कर रहा है बडे हादसे का इंतजार कही छतिग्रस्त खंम्बे तो कही लटके हुए तार