अलीराजपुर प्रदेश के स्वास्थ्य एंव चिकित्सा शिक्षा विभाग के नर्सिंग संवर्ग की मांगों के निराकरण कराने हेतु अनिश्चित हडताल पर।

0 536
ad

अलीराजपुर प्रदेश के स्वास्थ्य एंव चिकित्सा शिक्षा विभाग के नर्सिंग ओफिसर की मांगों के निराकरण कराने हेतु अनिश्चित हडताल पर।

अलीराजपुर नर्सिंग ऑफिसर ऍशोसिएशन द्वारा पूर्व कई वर्षो से ज्ञापन देकर निराकण करने कि माँग कि जा रही कई वर्षों से लंबित का निरारण किया गया है। जिससे प्रदेश के सभी नर्सिंग ओफिसर मे असंतोष व्याप्त है जिसके संबंध में नर्सिंग ऑफिसर ऍशोसिएशन द्वारा नर्सिंग ओफिसर की 10 सुत्रीय मांगों के प्रति एंव चरणबंध आदोलन किया जा रहा है।

वहीं चरणबंध आदोलन की रूपरेखा अनुसार दिनाक 10/07/2023 कार्य बंद पर जाना सुनिश्चित किया गया था परन्तु ज्ञापन देने में विलंब होने से दिनांक 10/7/2023 निर्धारित को कार्य बंद न करते हुए दिनाक 12/7/2023 से काम बंद कर हड़ताल की गयी है।

निरंतर शासन, विभागों से अनुरोध है कि प्रदेश के नर्सिंग ओफिसर की मांगों का निराकरण किया जाए निराकरण नहीं किया गया तो अनिश्चित कालीन हड़ताल की जाएगी जिस समस्त जवाबदारी शासन विभाग की होगी। 

प्रमुख मांगे निम्नानुसार है

1. नर्सिंग संवर्ग के वेतन विसंगति को दूर किया जाए।
(अ)- नर्सिंग ओफिसर ग्रेड पे 2800 को बढ़ाकर ग्रेड पे 4200 करें।
(ब)- सीनियर नर्सिंग ओफिसर ट्यूटर को ग्रेड पे 3600 को बढ़ाकर ग्रेड पे 4600 करें।
(स)- मेट्रन ग्रेड पे 4200 को बढ़ाकर ग्रेड पे 4800 करें।

2. रात्रीकालीन आकश्मिक चिकित्सा भत्ता स्वास्थ्य विभाग के चिकित्सकों को रु. 500/- प्रति रात्री दिया जाता है जबकि इनके साथ नर्स व अन्य पैरामेडिकल कर्मचारीयों को भी 300/- रुपये प्रति रात्री आकस्मिक चिकित्सा भत्ता दिया जाये। 

3 प्रदेश के चिकित्सा शिक्षा विभाग में स्वसाशी अधिकारी कर्मचारियों के वर्ष 2018 के भर्ती नियमों में संशोधन किया जाये साथ ही मत नियम संसोधन करते समय एसोसिएशन के प्रतिनिधीयों का सुझाव लिया जाये। गालियर एवं मेडिकल कॉलेज में जी.एन.एम. नर्सिंग को तीन एवं बी.एस.सी. नर्सिंग को भार वेतन वृद्धि की गयी है, जबकि अन्य मे कॉलेजों में नहीं दी गयी है। विभाग द्वारा सौतेला व्यवहार किया गया है। ग्वालियर एवं रीवा मेडिकल की भाति अन्य कॉलेज के नर्सिंग ऑफिसर को तीन एवं चा वेतन वृद्धि दी जाये।

 5. नर्सिंग स्टूडेन्ट का स्टॉफण्ड रु. 3000/- से बढ़ाकर रु. 8000/- किया जाये। 

6. (अ)मसिंग संवर्ग की पदोन्नति हेतु जब तक माननीय न्यायालय में निर्णय विचाराधीन है। ऐसी स्थिति में विभाग द्वारा पदोन्नति पद पर तौर पर प्रभारी बनाया जाये नर्सिंग ट्यूटर के पद सृजित किये जाये।

7. स्वास्थ्य एवं चिकित्सा शिक्षा विभाग अन्तर्गत संचालनालय स्तर पर सहायक संचालक का पद सृजित है, जो लिंग का है, अन्य कैडर से कार्य कराया जा रहा है जो अनुचित है। सहायक संचालक के पद पर नर्सिंग संवर्ग से ही कार्य कराया जाये।

8. प्रदेश के चिकित्सा शिक्षा विभाग में स्वसाशी अन्तर्गत कार्यरत कर्मचारीयों को सातवे वेतनमान का लाभ जनवरी 2016 से दिया जाये।

9 शासकीय सेवा में सीधी भर्ती में तृतीय एवं चतुर्थ श्रेणी वार्मचारी के पदों पर चयन होने पर चीन की परिवीक्षा अवधि एवं प्रतिम प्रतिशत 90 प्रतिशत मानदेय नियम को निरस्त कर पूर्व की भांति रखा जाये। 

10. पुरानी पेंशन (ओ.पी.एस.) पूर्व की भांति लागू की जाये।

चरणबद्ध आंदोलन निम्नानुसार

दिनांक 03.07.2023 को जिला कलेक्टर महोदय के माध्यम से मा मुख्यमंत्री महोदय जी को ज्ञापन दिया गया।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

जहरीली ताड़ी पीने से पांच लोगो की हालत बिगड़ी,चार महिला एक पुरुष शामिल-जामा मस्जिद चुनाव कमेटी ने किया हज यात्रियों का सम्मान।-लोकसभा चुनाव के मद्देनजर निष्पक्ष एवं निर्भीक मतदान कराने हेतु चांदपुर पुलिस ने निकाला डॉमिनेशन मार्च-हज यात्रियों के लिए टीका व प्रशिक्षण केम्प,जाने कब और कहा पर सिर्फ एक क्लिक में--अवैध शराब के विरुद्ध पुलिस की कार्यवाही करीब पांच लाख की शराब की जप्त।--पुलिस को मिली बड़ी सफलता, छापामार कार्यवाही के दौरान 7 लाख की अवैध शराब जप्त-कलेक्टर व पुलिस अधीक्षक ने ईद की तैयारी को लेकर ईदगाह का किया निरीक्षण, व्यवस्था व सुरक्षा को लेकर लिया जायजा।-बिजली विभाग कर रहा है बडे हादसे का इंतजार कही छतिग्रस्त खंम्बे तो कही लटके हुए तार