नगर में फैली गन्दगी सफाई कर्मी नहीं दे रहे ध्यान नगर पालिका की उदासीनता से पनप रहे मच्छर

0 88
ad

नगर में फैली गन्दगी सफाई कर्मी नहीं दे रहे ध्यान नगर पालिका की उदासीनता से पनप रहे मच्छर

भारत में 25 अप्रेल को मलेरिया दिवस मनाया जाता है मगर नगरपालिका खुद दे रही है मच्छरों को नेवता

नगरपालिका अलीराजपुर नहीं दे रही साफ सफाई पर ध्यान मौलाना आजाद मार्ग अलीराजपुर वार्ड 12 ,13 की हालत खराब शिकायत करने के बाद भी नगरपालिका कर्मचारी नहीं दे रहे ध्यान मच्छर व गंदगी का अंबार शांति समिति की बैठक में भी उठाया गया मु्द्दा मगर जिला अधिकारीयो के आदेश को भी मु चिढ़ाती नगरपालिका अलीराजपुर साफ सफाई में नगर की हालात खराब महीनों तक नहीं आते कर्मचारी कहीं महीनों से नहीं छिड़काई दवाई मच्छरों का प्रकोप जिम्मेदार मौन आला अधिकारियों से लेकर दरोग़ा तक को की शिकायत मगर फिर भी नहीं की कार्यवाही

25 अप्रैल मलेरिया दिवस

वैसे तो मध्यप्रदेश में 25 अप्रेल को विश्व मलेरिया दिवस के रुप में मनाते हैं स्वास्थ्य विभाग द्वारा लाखों रुपये मलेरिया की रोकथाम के लिए खर्च होते हैं मगर नगरपालिका द्वारा गंदगी साफ सफाई को लेकर कोई ठोस कदम नहीं उठाए जाते जिसकी वजह से स्वास्थ विभाग की मेहनत जाया चली जाती है। अलीराजपुर में दवाई का छिड़काव कहीं महीनों से नहीं हुआ है ना ही साफ सफाई समय पर होती है केसे अलीराजपुर नगरपालिका स्वच्छता में नम्बर वन पर आएगी।

 

गंदगी से मच्छरों का प्रकोप बढ़ा

लोगों ने की कीटनाशक दवाओं के छिड़काव और फॉगिंग की मांग, नगरपालिका ने अब तक नहीं किया है कोई इंतजाम

गर्मी की शुरुआत होते ही मच्छरों का प्रकोप बढ़ गया है, जिससे लोगों को परेशानी हो रही है। नगरपालिका की ओर से अभी तक दवा का छिड़काव नगर में नहीं कराया गया है, जिससे मच्छरों की संख्या दिन ब दिन बढ़ती जा रही है। शाम होते ही मच्छरों का हमला शुरू हो जाता है। वहीं सफाई न होना भी मच्छरों के अहम कारण माना जा रहा है।

रस्म अदायगी होती है सफाई नहीं

सफाई कर्मचारी सिर्फ सड़को के ऊपर से कूड़ा हटाकर रस्म अदायगी करते हैं बेहतर ढंग से सफाई न होने की वजह से मच्छर पनप रहे हैं, जो लोगों का अब जीना दूभर कर रहे हैं। अब गर्मी का सीजन शुरू हो चुका है, जिससे मच्छरों की संख्या बढ़ गई है। मच्छरों के प्रकोप को नियंत्रित करने के लिए नगरपालिका की ओर से वार्ड में दवा की फागिंग नहीं कराई गयी है, जिससे लोगों को दिक्कत हो रही है। अगर नियमित ढंग से प्रत्येक वार्ड में शेड्यूल बनाकर फागिंग कराई जाए, तभी मच्छरों से निजात मिल पाएगी।

Leave A Reply

Your email address will not be published.