प्रसिद्ध जैन तीर्थ लक्ष्मणी में ,नि: शुल्क बाल दिव्यांगता (आर्थोपैडिक) निवारण आपरेशन शिविर 23 अप्रैल को आयोजित होगा।

0 166
ad

प्रसिद्ध जैन तीर्थ लक्ष्मणी में ,नि: शुल्क बाल दिव्यांगता (आर्थोपैडिक) निवारण आपरेशन शिविर 23 अप्रैल को आयोजित होगा।

आलीराजपुर श्री आदिनाथ मल्लिनाथ जैन श्वेताम्बर ट्रस्ट एवं श्री पद्म प्रभु कल्याणजी जैन श्वेताम्बर पब्लिक चेरिटेबल ट्रस्ट के सहयोग से अ.भा.जैन श्वेताम्बर सोश्यल ग्रुप्स फेडरेशन के तत्वावधान में 23 अप्रैल को बाल दिव्यांग निवारण (आर्थोपैडिक)ऑपरेशन शिविर का आयोजन जैन तीर्थ लक्ष्मणी में सुबह 10 से दोपहर 1 बजे तक आयोजित होगा। जिसमें मरीज़ों के चयन हेतु इंदौर से प्रसिद्ध अस्थि रोग जोड़ प्रत्यारोपण विशेषज्ञ डॉ प्रमोद पी नीमा के साथ डॉक्टरों की टीम आएगी। इस शिविर में मरीज़ों एवं उनके अभिभावकों तथा कार्यकर्ताओं के लिए भोजन की व्यवस्था की गई है ।

चयनित मरीज़ों की सर्जरी यूनिक हास्पिटल इंदौर में होगी

उपरोक्त जानकारी देते हुए प्रोजेक्ट हेड वीरेन्द्र कुमार जैन ने बताया कि 15 वर्ष तक के जिन बच्चों के हाथ पैर टेडे मेड़ें हैं, अंगुलियाँ चिपकी हुई है, मेंढक की तरह चलते हैं या रेंग कर चलते हैं, उनकी सर्जरी कर पैरों पर खड़ा कर स्वावलंबी बनाने का प्रयास कर रहे हैं। बच्चों की शिविर में उपस्थिती सुनिश्चित करने हेतु ज़िला प्रशासन के साथ महिला एवं बाल विकास विभाग का महत्वपूर्ण योगदान मिल रहा है। उन्होनें कहा कि ऐसे दिव्यांग मरीजों को शिविर में अधिक से अधिक संख्या में लाने के लिए हर व्यक्ति का सहयोग आवश्यक है ताकि पीडित मरीजों को आवश्यक उपचार लाभ प्राप्त हो सके।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

जहरीली ताड़ी पीने से पांच लोगो की हालत बिगड़ी,चार महिला एक पुरुष शामिल-जामा मस्जिद चुनाव कमेटी ने किया हज यात्रियों का सम्मान।-लोकसभा चुनाव के मद्देनजर निष्पक्ष एवं निर्भीक मतदान कराने हेतु चांदपुर पुलिस ने निकाला डॉमिनेशन मार्च-हज यात्रियों के लिए टीका व प्रशिक्षण केम्प,जाने कब और कहा पर सिर्फ एक क्लिक में--अवैध शराब के विरुद्ध पुलिस की कार्यवाही करीब पांच लाख की शराब की जप्त।--पुलिस को मिली बड़ी सफलता, छापामार कार्यवाही के दौरान 7 लाख की अवैध शराब जप्त-कलेक्टर व पुलिस अधीक्षक ने ईद की तैयारी को लेकर ईदगाह का किया निरीक्षण, व्यवस्था व सुरक्षा को लेकर लिया जायजा।-बिजली विभाग कर रहा है बडे हादसे का इंतजार कही छतिग्रस्त खंम्बे तो कही लटके हुए तार