आरोपी को फांसी की सजा दिलाने के लिए जनजाति विकास मंच द्वारा घटना के विरोध में ज्ञापन दिया गया।

0 496
ad

आरोपी को फांसी की सजा दिलाने के लिए जनजाति विकास मंच द्वारा घटना के विरोध में ज्ञापन दिया गया।

साबीर शैख रिजवान शैख

 

अलीराजपुर /सोन्डवा पुलिस ने पिछले दिनों हुए एक अंधे क़त्ल का पर्दाफाश करते हुए तीन आरोपियो को गिरफ्तार किया है घटना में युवक की पत्नी और उसका प्रेमी ही घटना के मास्टर माइंड निकले बीते 10 सितंबर को उमराली गाँव के वीरेंद्र सिंह का शव वेगलगांव में अनखड़ नदी में मिला था पुलिस ने घटना की सुचना के बाद शव का पोस्टमॉर्टम कराया, जिसमे हत्या की बात सामने आई।

सोंडवा थाना पुलिस ने हत्या की धाराओं में मामला दर्ज कर केस की तफ्तीश शुरू की। इस दौरान पुलिस को मुखबिर से सुचना मिली कि घटना को अंजाम देने वाला आरोपी महू में छूपा है। पुलिस ने मुखबिर की सूचना पर महू से आरोपी को गिरफ्तार कर सख्ती के पूछताछ की, जहां उसने घटना के सारे राज उगले।

आरोपी जीशान कुरैशी ने बताया कि उसका मृतक वीरेंद्र की पत्नी से प्रेम प्रसंग चल रहा था, इसी की वजह से उसने वीरेंद्र को रास्ते से हटाने के लिए उसकी हत्या की। हत्या में उसके साथ मृतक की पत्नी कविता और एक अन्य साथी भी शामिल है। आरोपी के बयानों के आधार पर पुलिस ने महिला सहित एक अन्य आरोपी को भी गिरफ्तार किया।

वहीं अलीराजपुर पुलिस कप्तान मनोज कुमार सिंह ने बताया कि पुछ-ताछ में महिला ने कई चौकाने वाले खुलासे किए। आरोपी ने घटना को अंजाम देने के बाद महिला पर जबरन धर्म परिवर्तन का दबाव बनाया इसी के आधार पर पुलिस ने मामले में हत्या के साथ लव जिहाद व धार्मिक स्वतंत्रता अधिनियम के तहत एफआईआर दर्ज कर आरोपियो को गिरफ्तार किया है। वहीं सूत्रों से प्राप्त जानकारी के आधार पर पता चला कि आरोपी जीशान युवा काँग्रेस का कार्यकर्ता है, और घटना सामने आने के बाद उसके कांग्रेस नेताओं के साथ कई फोटो सोशल मीडिया पर वायरल भी हो रहे है।

 

वही सोंडवा में जनजाति विकास मंच द्वारा इस घटना के विरोध में प्रदर्शन किया गया जहाँ। जहाँ सैकड़ो कार्यकर्ताओ ने थाना प्रभारी को ज्ञापन सौपते हुए आरोपियो को सज़ा-ए-मौत दिलाने की मांग की। साथ ही फ़ास्ट ट्रैक कोर्ट में मामले की सुनवाई को ले कर भी जनजाति विकास मंच ने आवाज़ उठाई

Leave A Reply

Your email address will not be published.