जिला पंचायत सदस्य श्रीमती रिंकुबाला-लालसिंह डावर ने लंपि वायरस बीमारी को प्राकृतिक आपदा घोषित कर मृत पशुओं का मुवावजा भुगतान करने की मांग को लेकर माननीय मुख्यमंत्री को लिखा पत्र ।

0 175
ad

जिला पंचायत सदस्य श्रीमती रिंकुबाला-लालसिंह डावर ने लंपि वायरस बीमारी को प्राकृतिक आपदा घोषित कर मृत पशुओं का मुवावजा भुगतान करने की मांग को लेकर माननीय मुख्यमंत्री को लिखा पत्र ।

अलीराजपुर:- अलीराजपुर जिला कृषि प्रधान जिला है। यहाँ 80 प्रतिशत किसान पशुओं से कृषि कार्य करते है, एवं यहाँ के आदिवासी किसानों की अर्थव्यवस्था कृषि व पशुपालन पर ही निर्भर है तथा उनके जीविकापार्जन का मुख्य साधन ही कृषि एवं पशुपालन है। वर्तमान में जिले में लंबी वायरस रोग के प्रकोप से जिले के सैकड़ों पशुधन की क्षति हुई है जिससें यहाँ का आदिवासी किसान कर्ज के बोझ में दब गया है। शासन स्तर से लंपि वायरस रोग को प्राकृतिक आपदा घोषित कर जिन किसानों के पशु लंपि वायरस के कारण मरे है उन किसानों के मृत पशुओं का शासन सर्वे करवाकर उचित मुवावजा देने की मांग को लेकर माननीय मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान को पत्र लिख कर भेजा गया है। साथ ही श्रीमती रिंकुबाला – लालसिंह डावर ने स्थानीय स्तर पर जिला कलेक्टर राघवेंद्र सिंह तोमर को अलग अलग तीन और पत्र लिखें गये हैं जिसमें कहा गयाहैं कि शासन एक तरफ़ आजादी का अमृत महाउत्सव मना रही हैं,और आदिवासी महापुरुषों को सम्मान देने की बात करती है। लेकिन जिले में आज भी आजादी के 73 वर्ष बीत जाने के बाद भी किसी भी शासकीय कार्यालयों में एवं शैक्षणिक संस्थाओं में आज भी आदिवासी क्रांतिकारी महापुरुषों की न तो कोई प्रतिमा लगाई है। और न ही छायाचित्र लगे है,और न ही गणतंत्र दिवस एवं स्वतंत्राता दिवस के अवसर पर आदिवासी महापुरूषों को सम्मान दिया जा रहा है। अपने पत्र में श्रीमती बाला ने लिखा है कि इस जिले के महान क्रांतिकारी शहीद छितु किराड़ एवं चन्द्रशेखर आजाद जैसे महान क्रांतिकारी रहे हैं।शहीद जननायक टंट्या भील, भगवान बिरसा मुंडा,जयपालसिंह मुंडा भीमा नायक, खंज्या नायक, राणा पुंजा भील, विवेकानंद जी,रेंगू कोरकू, साहूजी महाराज,रानी दुर्गावती, सावित्रीबाई फुले, ज्योतिबा फुले बाबा साहब डॉक्टर भीमराव अम्बेडकर आदि महापुरुषों एवं क्रांतिकारियों ने देश की आजादी में अपना बलिदान दिया हैं परन्तु आज भी शासकीय कार्यालयों एवं शैक्षणिक संस्थाओ में आदिवासी महापुरुषों के छायाचित्र नही लगाए गए। पत्र में लिखें उक्त महापुरुषों के छायाचित्र शासकीय कार्यालयों एवं शेक्षणिक संस्थाओ में लगवाये जाने की मांग की गई है,ताकि महापुरुषों को सम्मान मिले और उनके कार्यो एवं संघर्षो के बारे में सभी को जानकारी हो सके। आजादी के इन महान क्रांतिकारियों एवं महापुरुषों के छायाचित्र लगाने की मांग सामाजिक संगठनों के द्वारा भी पूर्व में की जा चुकी है।कलेक्टर को भेजे गये पत्र में श्रीमती रिंकुबाला डावर ने प्रशासन एवं अधिकारियों पर अपने साथ भेदभाव करने का आरोप भी लगाया है उन्हें कहा कि शासकीय योजना अनुसार नवीन निर्माण कार्यो के भीमपूजन शिलान्यास एवं उटघाटन में मेरे ही वार्ड के कार्यो में सूचना तक नही दी रही हैं। मुझ आदिवासी महिला जन प्रतिनिधि की उपेक्षा की जा रही हैं।जिस कारण से अपने आप में प्रताड़ित महसूस कर रही हूँ, और मेरे साथ संवैधानिक अधिकारों का हनन भी हो रहा है साथ ही कहा कि मेरे साथ हो रहे इस भेदभावपूर्ण रवैया को संज्ञान में लेकर उचित कार्यवाही की मांग कलेक्टर राघवेंद्र सिंह से की गई हैं एवं समस्त विभाग को पत्र जारी कर जिला पंचायत वार्ड 08 में चल रही विभिन्न हितग्राही मूलक एवं निर्माण कार्य की प्रगति की जानकारी भी मांगी गई है ताकि आगामी दिनों में जिला योजना समिति की बैठक में कार्य की समीक्षा की जा सकें।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

नानपुर में गुरु पूर्णिमा व स्थापना पर्व धूमधाम से मनाया ,हजारों लोगों ने दर्शन कर भंडारा में प्रसादी का लाभ लिया .-ताजिए विसर्जन के साथ खत्म हुआ मोहर्रम पर्व, हक़ हुसैन या हुसैन के नारों से गूंज उठा शहर।-समाजसेवी इसामुद्दीन मंसूरी द्वारा बच्चो को वाटर बॉटल वितरित कर मनाया अपने पोते का जन्मदिन।-हज़रत कासिम की याद में निकला मेंहदी का जुलूस,ताजियो पर जाकर की मेंहदी की रस्म अदा-आबकारी विभाग अलीराजपुर द्वारा बड़ी कार्यवाही, 1200 पेटी अवैध शराब जब्त कर प्रकरण  दर्ज किया गया।-50 पौधे लगाकर कराम सिंह मंडलोई (शिक्षक) ने मनाया अपना 25वां जन्मदिन,सेलेब्रेशन का अनूठा अंदाज़ आमजन के लिए बना प्रेरणा।-अश्विन बामनिया का असिस्टेंड कमांडेड के पद पर हुआ चयन,आकास संगठन ने किया सम्मानित-अलीराजपुर पब्लिक स्कूल का हुआ सुभारंभ,अतिथियों ने रिबन काटकर किया आगाज़,समिति व स्टाफ ने किया बच्चो का वेलकम-नव प्रवेशित विद्यार्थियों का दीक्षारंभ कार्यक्रम का हुआ समापन-रिटायर्ड फौजी का हुआ भव्य स्वागत,आदिवासी समाज ने निकाला नगर में स्वागत जुलूस